मेरा परिचय

नमस्ते। मेरा नाम दिव्या अरविंद पटेल है। मैं दिव्या दैनिका की संस्थापक और मुख्य संपादक हूँ। मेरा ब्लॉग मानवीय रिश्तों, विवाहित ज़िन्दगी और लोगो की अंदरूनी पहचान को उभारने के लिए समर्पित है । दिव्या दैनिका के हर लेख के पीछे मेरी खुद की ज़िन्दगी का अनुभव छुपा है।

 

मेरी कहानी

मैं पश्चिमी भारत के गुजरात राज्य मे रह्ती हूँ।मेरी शादी हुए बहुत साल बीत चुके हैं और मेरी विवाहित ज़िन्दगी खुशाल है। लेकिन ये खुशाली किसी जादू की छड़ी की वजह से प्राप्त नहीं हुई बल्कि मेरे खुद के संघर्ष का परिणाम है।

मेरा खुद का जीवन अनुभव इस बात का सबूत है कि हर इंसान को अपने हक़ की लड़ाई स्वयं ही लड़नी एवं जितनी पढ़ती है। मैंने किसी भी स्थिति में अपनी पहचान नहीं खोयी है और आगे भी नहीं खोऊंगी।

दिल से लिखना एवं ब्लॉग्गिंग करना मेरा जुनून है। मैं एक द्विभाषिक ब्लॉगर हूँ और मेरे लेख हिंदी और अंग्रेजी दोनों ही भाषाओँ में छपते हैं। मैं अपने ब्लोग्स के द्वारा आप सब प्यारे लोगों तक पहुंचना चाहती हूँ और ये सन्देश देना चाहती हूँ कि ज़िन्दगी बहुत ही सुन्दर है ।

ज़रूरत है तो बस हिम्मत और धैर्य रखने की। जिस तरह मेरी ज़िन्दगी के संघर्ष का परिणाम मेरा सशक्तिकरण है, उसी तरह आपका भी हो सकता है। अपने ब्लोग्स के द्वारा एक विनीत भाव से आप सबको प्रेरणा देना चाहती हूँ ।

मेरी लेखन उपलब्धियां

मैंने पिछले कई सालों से खुद को लेखन और ब्लॉगिंग की ओर समर्पित किया है। दुनिया के कुछ संगठन अब मुझे प्रोत्साहित कर रहे है ताकि में और भी अच्छा लिख सकूँ  हाल ही में कुछ विशेष उपलब्धियां मुझे मिली हैं ।

मेरी किताबें

 मैंने अब तक तीन पुस्तकों का लेखन किया है |

मेरी  प्राथमिकता

एक महिला और एक ब्लॉगर के रूप में, मैं दुनिया भर के अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचने के लिए एक मिशन पर हूँ | मेरे ब्लोग्स के माध्यम से उनके साथ जुड़ने और उन्हें अपनी आवाज साझा करने में मदद करना चह्ती हूँ। हर रुख मायने रखता है और हर आवाज को अच्छी तरह से सुना जाना चाहिए।

आंतरिक उपचार, स्वयं और मानस के परिवर्तन से शुरू होता है। मैं अपने स्वयं के जीवन के अनुभवों का उपयोग करना चाहती हूँ ताकि व्यक्तियों को खुद के लिए खड़े होने, खुशी को गले लगाने और अंदर से ठीक होने में मदद मिल सके।

 

आश्वस्त प्रशंसापत्र

दिव्या एक बहुत ही ईमानदार, दयालु और निडर महिला हैं। वह अविश्वसनीय रूप से प्रभावशाली लेखन लिखती हैं जो मुझे और कई पाठकों को प्रेरित करती हैं । दिव्या, मै कामना करती हूँ कि आपकी कलम को और अधिक शक्ति मिले।

- पूर्वी तिवारी

सफल आभूषण ब्लॉगर

दिव्या एक बेहद सक्षम, प्रतिभाशाली, मेहनती, नैतिक और प्रेरणादायक महिला और ब्लॉगर हैं। वह न केवल एक भावुक लेखक है, बल्कि एक बहुत ही निपुण ब्लॉगर है। इस वेबसाइट को बनाने में मदद करना, यह मेरे लिये एक सम्मान की बात है।दिव्या ज़रूर ऊंचाइयों तक पहुंचेगी ।

- आकृति मट्टू

बजट वेफरर्स की संस्थापक

दिव्या उत्तम कहानी कौशल के साथ एक प्रतिभाशाली लेखिका भी हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि वह कभी हार न मानने की भावना रखती हैं। उन्होंने अपने व्यक्तिगत संघर्षों को कहानियों को प्रेरणा में बदल दिया है।

- शाइनी होक

शेरोएस में सामुदायिक प्रबंधक

स्वतंत्रता कला ग्रैफिटी

संपर्क में रहें

error: Content is protected !!